Sanjha Bistar, Sanjhi Biwiyan – Episode 5

This story is part of a series:

राज का अपने प्रति इतना बदलाव और राज का रानी को इतनी छूट देना रानी को बहुत अच्छा तो लगा, पर रानी के मन में उत्सुकता हुई की आखिर कुछ न कुछ बात है जिससे की उसका पति रानी की और इतना ध्यान देने लगा है। आखिर बात क्या है?

एक दिन राज से रानी ने वह बात पूछ ही डाली जिसका राज को डर था।

उसने राज को बात बात में पूछा की, “राज एक बात बताओ। पहले तो आप अपने काम में इतने व्यस्त रहते थे की मेरी और ज़रा भी ध्यान नहीं देते थे। पर आजकल आप मेरे बारे में, मेरे शरीर के बारे में और मुझे सेक्सी दिखाने में आपका इंटरेस्ट इतना क्यों बढ़ गया है? आप में अचानक इतना जबरदस्त परिवर्तन कैसे आया?”

तब राज ने जवाब दिया की “यह सब कमल का कमाल है।“ और फिर राज ने रानी को कमल से हुई बातचीत के बारे में बताया।

रानी राज की बात सुनकर हैरान रह गयी, फिर धीरे से बोली, “कमाल है। कमल भैया बड़े ही समझदार हैं। पत्नी का कैसे ध्यान रखना चाहिए यह वह बखूबी जानते हैं।”

राज समझ गया की सेक्स लाइफ में सुधार होने से रानी भी खुश लग रही थी और दूसरे रानी को यह भी शिकायत नहीं थी की उसका पति राज कमल से रानी के बदन के बारे में खुल्लम खुल्ला बात कर रहे थे।

जब राज ने कमल से यह सब कहा तो कमल ने राज से पूछा, “एक बात तो हमारे पक्ष में है। रानी थोड़ी ही सही पर तैयार तो हो रही है। मैं तुम्हें तो मार्ग दर्शन दे रहा हूँ, पर मेरी बीबी को तैयार करने में नाकाम हूँ। अच्छा एक बात बताओ, रानी को कभी ज्यादा रोमांटिक वाली; अरे साफ़ साफ़ कहूं तो ब्लू फिल्म दिखाते हो क्या?”

जब राज ने कहा, “नहीं। अरे मैंने खुद ही कोई ब्लू फिल्म नहीं देखि तो रानी को कहाँ से दिखाऊंगा?”

कमल ने अपना सर पीटते हुए कहा, “तुम तो बड़े भोंदू निकले यार। आजकल यह सब मिल जाता है। ज़रा कोशिश करो। अपनी बीबी रानी को गरमा गरम हॉट ब्लू फिल्म दिखाओ। मैं एक काम करता हूँ। मैं तुम्हें एक लिंक भेजता हूँ। तुम उस ब्लू फिल्म को देखो और भाभी को भी दिखाओ। फिर देखो, भाभी में और कितना बदलाव आता है!”

तब राज ने पूछा, “भैया तुमने यह सब किया है क्या? जब मैं वहाँ आया था तो मुझे लगा की तुम्हारी अपनी विवाहित जिंदगी भी कुछ ज्यादा बढ़िया नहीं चल रही थी।”

कमल एक लम्बी और बड़ी गहरी साँस लेकर बोला, “अरे भाई, यह सब अपने तजुर्बे से ही तो कह रहा हूँ। हम कोई आसमान से नहीं टपके। मुझे किसी ने रास्ता दिखाया। अब मैं तुम्हें राह दिखा रहा हूँ। पर हाँ, मेरी कहानी तुमसे थोड़ी अलग है। कुमुद और रानी में अंतर है। मेरे दबाव के कारण कुमुद थोड़ी बदली तो है, पर उसे तैयार करना मेरे लिए तो भाई पहाड़ पर चढ़ने जैसा है। पर मेरी छोडो, जहां आगे बढ़ सकते हैं वहाँ तो कोशिश करें।”

कमल की बात सुन कर राज मन ही मन में दुखी हुआ की कमल भैया और कुमुद भाभी की जोड़ी अच्छी चल नहीं रही थी। शायद कुमुद भैया को कुमुद भाभी को चोदने में भी मजा नहीं आ रहा था।

राज की यह बात समझ में नहीं आयी, क्यूंकि राज को तो कुमुद बड़ी सेक्सी लगती थी और राज के मन में एक ख्वाहिश थी की अगर मौक़ा मिले तो और अगर कमल भैया को कोई आपत्ति ना हो तो राज भी कुमुद भाभी को चोदना चाहता था।

राज ने फिर दुबारा दृढ निश्चय किया की एक न एक दिन वह जरूर अपनी बीबी रानी को तो कमल भैया से जरूर चुदवायेगा।

शायद कमल भैया भी कुमुद को राज से चुदवाने के लिए राजी हो जाएँ। पर सबसे ज्यादा जरुरी यह था की पहले अपनी बीबी रानी को कमल भैया से चुदवाने के लिए तैयार करना।

राज ने कमल से वह ब्लू फिल्म वाली लिंक भेजने को कहा, तो कमल ने राज को एक वेबसाइट की लिंक भेजी और कहा, “इसे एकदम गुप्त रूप से अपने लैपटॉप पर डाउनलोड कर देखना और फिर रानी भाभी को भी दिखाना। फिर मुझे बताना की क्या हुआ?”

राज ने लिंक खोल कर वीडियो देखा, तो उस वीडियो में दो मित्र अपनी पत्नियों के साथ कोई हिल स्टेशन जाते हैं। संयोग वश उन्हें एक ही कमरे में रुकना पड़ता है। वहाँ वह एक दूसरे की बीबियों को कम कपड़ों में देखते हैं।

दो पलंग एक साथ जुड़े हुए होते हैं और रात को दोनों पति अपनी पत्नियों से लिपट कर सोते हैं तभी रात को अचानक ही एक कपल उत्तेजित हो जाता है और पति पत्नी से चोदने की रट लगाने लगता है।

आखिर में पत्नी पति की बात मानकर कपडे पहने हुए ही अपना घाघरा ऊंचा करके उसे चोदने देती है।

जब दूसरा कपल यह देखता है तो पति अपनी पत्नी के विरोध करने पर भी अपने और पत्नी के कपडे निकाल कर पत्नी पर चढ़ कर उसे चोदने लगता है।

उसे कोई परवाह नहीं की दुसरा कपल उन दोनों को नंगा चोदते हुए देख रहा था। पत्नी भी अपने आपको रोक नहीं पाती है और पति का पूरा साथ देती है।

तब पहला कपल हैरान हो कर उन दोनों को चोदते हुए देखता ही रहता है। तब वह पति दूसरे कपल को देखकर अपने सारे कपडे निकाल देता है और अपनी पत्नी को भी नंगी कर चोदने लगता है।

दोनों पति एक दूसरे को उछृंखलता से अपनी अपनी बीबियों को चोदते हुए देखते हैं।

दोनों पत्नियां अपने पति से चुदवाने में मग्न होती हुई अपनी आँखें बंद करके मजा लेती हैं तब एक पति दूसरे पति को आँख मार कर इशारा करता है और फिर एक पति दूसरे की पत्नी की जाँघों पर हाथ रखता है।

उसे देख कर दुसरा पति दूसरे की पत्नी के स्तन दबाने लगता है। दोनों में होड़ लगती है और उससे पहले की दोनों पत्नियां अपने पति के खेल को समझे, दोनों पति फुर्ती से अपनी बीबी के ऊपर से हटकर एक दूसरे की पत्नी पर चढ़कर उन्हें चोदने लगते हैं।

पत्नियां समझ जाती हैं; पर जैसे असहाय है ऐसा ढोंग करके अपनी आँखें बंद करके इसका मजा लेती हैं और बाद में बिंदास होकर (अपने पति की इजाजत जो मिल गयी) अलग अलग तरीके से दूसरे के पति को चोदती है और उससे चुदवाती है।

ऐसे कई तरह से लण्ड चूसना, चूत चाटना, चूँचियों को चूसना और निप्पलों को काटना इत्यादि होता है और आखिर में दोनों पति दूसरे की पत्नियों की चूत में अपना वीर्य निकालते हैं।

उस वीडियो को देखकर राज की तो हवा निकल गयी। जब वह ही इतना हैरान था, तो इसको रानी को दिखाना तो नामुमकिन सा लग रहा था।

पर राज को एक बात अच्छी लगी, की कमल भैया ने वही वीडियो चुना जिसमें दोनों पति अपनी पत्नियों को दूसरे से चुदवाते हैं।

राज के मन में आशा जगी की शायद कहीं न कहीं कमल भैया के मन में खुद रानी को चोदने की और कुमुद को राज से चुदवाने की मंशा हो सकती हैं। पर राज यह बात कमल को पूछने की हिम्मत ना जुटा पाया।

जब राज ने कमल से कहा की शायद रानी ऐसी फिल्म देखने के लिए तैयार नहीं होगी, तो कमल अपनी हँसी नहीं रोक सका।

कमल ने कहा, “तुम निश्चिंत रहो। एक रात को रानी से कहो की तुम्हें कहीं से एक वीडियो मिला है। तुम यह मत कहना की मैंने भेजा है। रानी से कहना की वह थोड़ा सेक्स के बारे में है और उसे सिर्फ बीबी के साथ ही देखना है ऐसा कहा गया है। पहले तो रानी थोड़ी ना नुक्कड़ करेगी, की यह अच्छा नहीं लगता, पर फिर वह इसे देखती रहेगी और आखिर में तुम खुद देख लेना क्या होता है।”

राज ने एक शनिवार की रात रानी से यह बात कह डाली। राज ने रानी से कहा की वीडियो थोड़ा सा अश्लील है। उसे आश्चर्य हुआ जब रानी वीडियो देखने के लिए तैयार हो गयी। शायद उसे पता नहीं था की वह क्या देखने वाली थी।

जैसे राज ने वीडियो चालु किया और पति पत्नी के रोमांस के सिन आये, तो राज की प्यारी बीबी रानी राज के करीब बैठ गयी और राज की टाँगों के बिच हाथ डालकर उसके ढीले लण्ड को टटोलने लगी।

जब पति पत्नी की चुदाई के दृश्य आये तो वह राज का लण्ड पाजामे में से निकाल कर उसे फुर्ती से हिलाने लगी।

जैसे जैसे परदे पर दृश्य ज्यादा उत्तेजित होने लगे, अपना घाघरा ऊपर कर रानी ने राज का हाथ उसमें डाला।

राज ने महसूस किया की उसकी बीबी रानी की चूत पूरी तरह गीली हो चुकी थी और उसमें से उसका रस रिस रहा था। राज समझ गया की रानी उससे उँगलियों से चुदवाना चाहती है।

पर जब रानी ने देखा की दोनों पति एक दूसरे की बीबियों पर चढ़कर उन्हें चोदने लगे थे, तो उससे रहा नहीं गया वह राज से चिपक गयी जैसे वह यह सब देखने से डर गयी हो।

तब राज ने अपनी उत्तेजित खूबसुरत पत्नी को अपनी बाहों में लिया और उसे यह कह कर प्यार जताने लगा की देखो जानूं यह सब होता रहता है। इसका आनंद लो। एन्जॉय करो।

राज के बार बार आश्वासन देने से और अत्यंत उत्तेजक भड़कीले सिन के कारण राज और रानी दोनों का उन्माद बढ़ता जा रहा था।

जब राज ने रानी के कपडे उतार कर रानी की चूत में उंगलिया डाल कर उसे उकसाना शुरू किया, तो वह एकदम उत्तेजित हो गयी और राज पर चढ़ गयी और राज को जोर शोर से चोदने लगी।

उसका पानी कई बार छूट गया। राज ने कभी भी उसकी बीबी को इतनी बार निढाल होते हुए नहीं देखा। राज को चोदते हुए वह बोल रही थी, “राज ऐसा कभी नहीं हो सकता। यह गलत है।”

तब राज ने रानी से कहा, “जानू, इस दुनिया में सारी अच्छी चीजें या तो या गलत, या असामाजिक, या तो कानूनी दृष्टि से अवैध मानी जाती है। पर होता सब कुछ है।”

रानी ने भोलेपन से ताकते हुए पूछा, “क्या ऐसा भी होता है की एक औरत का पति अपने दोस्त को अपनी पत्नी को अपने सामने ही चोदते हुए देख सकता है?”

राज ने कहा, “ना सिर्फ पति अपनी पत्नी को उसके सामने चुदवाते हुए देख सकता है बल्कि वह देखना चाहता है।”

रानी ने पूछा, “कमाल है यार! ऐसा कैसे हो सकता है?”

राज ने कहा, “होता है तभी तो दिखाया है। ”

रानी ने कहा, “तुम मुझे वैसे ही बरगला रहे हो। वास्तव में ऐसा कैसे मुमकिन है? भला कोई मर्द अपनी बीबी को दूसरे से चुदते हुए कैसे देख सकता है? और कोई बीबी अपने पति को किसी और औरत को चोदते हुए कैसे देख सकती है? क्या तुम मुझे तुम्हारे किसी दोस्त से चुदवाते हुए देख सकते हो?”

राज ने कहा, “चलो अपनी ही बात करो। तुम्हारा सवाल था न की क्या मैं तुम्हें मेरे किसी दोस्त से चुदवाते हुए देख सकता हूँ? तो सुनो मैं तुम्हें मेरी और तुम्हारी पसंद के कोई भी गैर मर्द से चुदवाते हुए ना सिर्फ देख सकता हूँ बल्कि देखना चाहता हूँ।”

रानी ने राज की और तेज तर्रार आँखों से देखते हुए कहा, “तुम क्या बक रहे हो? क्या तुम वास्तव में ऐसा कर सकते हो? पर मैं तुम्हारे अलावा किसी से भी चुदवाना नहीं चाहती। मैं तुम्हें भी किसी गैर औरत को चोदते हुए देख नहीं सकती।”

रानी की बात सुन कर राज निराश हो गया। राज चुप रहा। उसने उस बात को उस समय आगे बढ़ाना ठीक नहीं समझा।

[email protected]

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top